Teachers Day Speech In Hindi, 5 September Teachers day speech hindi

“Teachers day speech in hindi”, हमारे देश भारत में हर वर्ष 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। शिक्षक दिवस पर हम अपने शिक्षक यानी गुरु के महत्व को समझते हैं। मां पिता के बाद इस संसार में गुरु ही है जो मनुष्य को निस्वार्थ भाव से शिक्षा देते हैं।

उसे इस दुनिया में जीने के सही तरीके बताते हैं अच्छे संस्कार तथा अच्छे ज्ञान देते हैं| अगर गुरु ना होते तो यह दुनिया अधूरी सी होती गुरु से ही यह दुनिया पूरी है, गुरु के बिना कोई भी मानव महापुरुष नहीं बन सकता। इसलिए 5 सितंबर को हरसाल हम लोग गुरु के सम्मान में शिक्षक दिवस मनाते हैं।

विश्व के अलग-अलग देशों में अलग-अलग दिन मनाया जाता है शिक्षक दिवस, हमारे देश भारत में 5 सितंबर को ही शिक्षक दिवस मनाया जाता है। आजाद भारत के पहले उपराष्ट्रपति तथा दूसरे राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिन 5 सितंबर को मनाया जाता है।

इसी दिन को शिक्षक दिवस के रूप मे मनाया जाता है। डा.राधा कृष्ण जी का जन्म 5 सितंबर 1888 को तमिलनाडु के गांव में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। वह बचपन से ही पुस्तकों में काफी रूचि रखते थे आर्थिक कमी के बावजूद भी उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में काफी अच्छा प्रदर्शन किया।

Speech on teachers day in hindi

वो स्वामी विवेकानंद जी से काफी प्रभावित थे। डॉक्टर राधाकृष्णन एक महान विद्वान तथा आदर्श शिक्षक थे उन्होंने राजनीति में आने से पहले अपनी 40 साल अध्यापन को दिए थे, उनका मानना था कि बिना शिक्षा के इंसान कभी भी मंजिल तक नहीं पहुंच सकता है,

इसलिए हर इंसान के जीवन में एक शिक्षक का होना बहुत जरूरी है। साल 1954 में शिक्षा और राजनीति में सबसे अच्छा योगदान देने के लिए उन्हें भारत सम्मान से भी नवाजा गया। डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का निधन चेन्नई में 17 अप्रैल 1975 को हुआ। “Teachers day speech in hindi”

पूरे विश्व में शिक्षक दिवस अलग-अलग तारीख पर मनाया जाता है। भारत देश 5 सितंबर 1962 से शिक्षक दिवस मनाया जा रहा है, शिक्षक दिवस के दिन आदर्श तथा महान गुरुओं को छात्र-छात्राएं उपहार देते हैं तथा कई सारे स्कूलों कॉलेजों में तरह तरह के कार्यक्रम होते हैं।

कहा जाता है कि 1962 में 5 सितंबर को राधाकृष्णन जी का जन्मदिन मनाया जाता था, तब राधाकृष्णन जी ने यह इच्छा जताई कि उनके जन्मदिन के दिन को शिक्षक दिवस के रुप में मनाया जाए और तभी से पूरे भारत में 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाने लगा।

Teachers day speech in hindi

छात्र-छात्राएं अपने आदर्श शिक्षक को रंग-बिरंगे उपहार देते हैं खुशियां मनाते हैं अपने शिक्षक का शुक्रिया अदा करते हैं, जो उन्हें संसार में अच्छे जीवन जीने के लिए ज्ञान देते हैं गुरु का स्थान संसार के दूसरे स्थान पर है जन्मदाता के बाद गुरु ही इस संसार में पूजनीय है।

गुरु अपने शिष्यों को अच्छी शिक्षा देते हैं उसे जीवन जीने के लायक बनाते हैं, और जब कोई भी शिष्य अपने गुरु के बताए हुए मार्ग पर चलता है तो उसे कभी भी जीवन में कष्ट नहीं होता,जब शिष्य कुछ अच्छा काम करता है तो शिष्य के साथ उसके गुरु का भी मान सम्मान बढ़ता है।

इसलिए शिक्षक दिवस पर एक ऐसा दिन है जिस दिन हम अपने शिक्षक को अपना मान सम्मान देते हैं उपहार देकर उन्हें प्रसन्न करते हैं। अपने गुरु की हमेशा सम्मान करें। “Teachers day speech in hindi”

गुरु किसी भी इंसान के जीवन को बनाने और उसे आकार देने के लिए सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, हम सभी अपने जीवन में गुरु के अच्छे मार्गदर्शन से ही सफल हो पाते हैं शिक्षक दिवस हमारे देश में बड़े उत्साह से मनाया जाता है।

Additional reading:-

Leave a Comment